मेरा गाज़ियाबाद

हिंडन नहर में कूदी युवती, बचाने के लिए कूदा युवक, दोनों की मौत

गाजियाबाद। इंदिरापुरम कोतवाली क्षेत्र की कनावनी पुलिया से रविवार रात युवक-युवती हिंडन नहर में कूद गए। सोमवार शाम राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम ने दोनों का शव बरामद किया। घटना के बाद दोनों के परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग की बात सामने आ रही है। कई घंटे तक पानी में दोनों के शव होने से गल चुके थे।

एनडीआरएफ प्रवक्ता के अनुसार, गाजियाबाद पुलिस से सूचना मिली कि ग्राम कनावनी के पास हिंडन नदी में युवक-युवती ने छलांग लगा दी है। सोमवार सुबह 7 बजे डीप ड्राइविंग टीम को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया। कई मोटरबोट लगाकर सुबह ही सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया। शाम साढ़े चार बजे एक व्यक्ति की लाश बाहर निकाली गई। उसकी पहचान 22 वर्षीय अमित सिंह के रूप में हुई। वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश में महोबा जिले का रहने वाला है। जबकि शाम साढ़े छह बजे एक युवती की लाश बाहर निकाली गई। इस युवती की पहचान 20 वर्षीय निशा के रूप में हुई। निशा गाजियाबाद में ही कनावनी गांव की रहने वाली है।

पुलिस का कहना है कि रविवार रात करीब साढ़े 8:30 बजे युवक युवती दोनों हिंडन नहर के पास खड़े होकर बात कर रहे थे। इस बीच अचानक युवती ने हिंडन में छलांग लगा दी। उसे बचाने के लिए युवक भी नहर में कूद गया। मगर पानी का बहाव तेज होने से दोनों संतुलन नहीं बना सके और नहर में डूब गए। राहगीरों ने इसकी सूचना तुरंत इंदिरापुरम पुलिस को दी। युवक परिवार के साथ झुग्गी-झोपड़ी में रहता था। वह कार चलाकर परिवार का गुजारा करता था। उधर, पुलिस को घटनास्थल के पास से दोनों के मोबाइल नंबर व अमित की मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

पुलिस की जांच में सामने आया है कि 21 मार्च को अमित का जन्मदिन था। दोनों एक साथ मिलने के लिए कनावनी नहर के पास आए थे। लेकिन किसी बात से नाराजगी के बाद युवती ने नहर में छलांग लगा दी। एसपी सिटी सेकेंड ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि युवक-युवती के शव को एनडीआरएफ टीम ने 22 घंटे के तलाशी अभियान में बरामद कर लिया है। युवती के नहर में कूदने का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। अभी तक मामले में लिखित शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने पर जांच की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.