अपराधमेरा गाज़ियाबाद

गाजियाबाद में हैवानियत: शादी के 15 साल बाद हुआ था बेटा, पड़ोसी ने मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद की हत्या

गाजियाबाद। कविनगर थाना क्षेत्र के लालकुआं में पड़ोसी ने साढ़े पांच साल के बच्चे को अगवा कर उसके साथ कुकर्म के बाद गला दबाकर हत्या कर दी। सीसीटीवी फुटेज से मिली मदद के बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

मेरठ के सरधना थाने के कपसाड़ गांव का रहने वाला आरोपी राहुल लालकुआं में अपने भाई के साथ एक फैक्टरी में लेबर का काम करता था। तीन महीने पहले उसके भाई ने मासूम के पिता को यहां काम दिलाया था। कंपनी में नौकरी लगने के बाद गांव का युवक पत्नी और साढ़े पांच साल के मासूम बेटे के साथ राहुल कश्यप के मकान के पास किराए पर रहने लगा। रविवार शाम करीब सवा छह बजे मासूम घर के बाहर खेल रहा था। इसी दौरान राहुल कश्यप शराब पीकर पहुंचा और बच्चे को 10 रुपये थमाकर चीज दिलाने के बहाने बम्हैटा और शौर्यपुरम के जंगल में ले गया। वहां राहुल ने बच्चे के साथ कुकर्म किया और फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपित ने बच्चे के शव को पास की झाड़ियों में फेंका और मौके से फरार हो गया।

बच्चे के घर के बाहर से गायब होने के बाद माता पिता ने काफी तलाश किया और पड़ोसियों से भी पूछताछ की लेकिन कोई पता नहीं चला। कॉलोनी में लगे सीसीटीवी फुटेज को जब पुलिस ने खंगाला तो उसमें आरोपी बच्चा ले जाते हुआ दिखा। इसके बाद पुलिस ने कांबिग कर राहुल को दबोच लिया। पूछताछ पर उसने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन कैमरे का फुटेज दिखाने पर वह टूट गया। इसके बाद उसने कुकर्म के बाद बच्चे की हत्या कबूल कर ली।

थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक बच्चे के माता-पिता की शादी वर्ष 2003 में हुई थी। शादी के बाद उन्हें औलाद का सुख प्राप्त नहीं हुआ। 15 साल तक वह लगातार मिन्नत करते रहे तब जाकर 15 साल बाद बेटा पैदा हुआ। वह दिन रात मेहनत कर बच्चे का पालन-पोषण कर रहे थे। रविवार को जब बेटा लापता हुआ तो वह उसकी सलामती की दुआ करते रहे। लेकिन जब बेटे की हत्या का पता चला तो माता-पिता दहाड़े मारकर रोने लगे। इकलौती संतान की हत्या के बाद पति पत्नी दोनों पर दुखों पहाड़ टूट पड़ा है। वे उस दिन को कोस रहे हैं जब वह तीन महीने पहले यहां नौकरी करने आए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.