Uncategorized

बेटी से रेप के आरोपी दिलशाद को पहली तारीख पर बाप ने कचहरी में गोली से उड़ाया

गोरखपुर। यूपी के गोरखपुर जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां दीवानी कचहरी गेट के बाहर शुक्रवार की दोपहर एक दुष्कर्म के आरोपी युवक को गोली मार दी गई। आरोपी को जिसने गोली मारी है वह पीड़ित लड़की का ही पिता है।

मृतक युवक की पहचान दिलशाद हुसैन मुजफ्फरपुर, बिहार के सकरा थाना क्षेत्र में विधिपुर के रुप में हुई है। उस पर बड़हलगंज क्षेत्र की किशोरी से दुष्कर्म का आरोप था। इसी मामले में दिलशाद मुकदमे की तारीख देखने कचहरी आया था। डेढ़ बजे दीवानी कचहरी गेट पर पहुंचने के बाद उसने अपने अधिवक्ता को मिलने के लिए कचहरी गेट के बाहर बुलाया था। अधिवक्ता बाहर आते इसके पहले ही कचहरी गेट के बाहर स्थित वाहन स्टैंड के बगल में एक शख्स ने उसके सिर में सटाकर गोली मार दी। भाग रहे एक बदमाश को लोगों ने पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि जिस शख्‍स को गिरफ्तार किया गया है वह पीड़ित लड़की का पिता है।

बीएसएफ के सेवानिवृत्त जवान भागवत निषाद मूल रुप से बड़हलगंज के महराजगंज गांव के रहने वाले हैं। पटना घाट तिराहा पर मकान बनवाकर परिवार के साथ रहते हैं। मुजफ्फरपुर (बिहार) जिले के विधिपुरा शकरा निवासी दिलशाद हुसैन उनके घर के सामने पंक्चर की दुकान चलाता था। 12 फरवरी 2020 को दिलशाद ने भागवत की नाबालिग बेटी को अगवा कर लिया। खाेजबीन के बाद 17 फरवरी को भागवत ने दिलशाद के खिलाफ दुष्कर्म व पाक्सो एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया।

12 मार्च 2021 को बड़हलगंज पुलिस ने दिलशाद को हैदराबाद में गिरफ्तार कर किशोरी को मुक्त कराया था।गोरखपुर लाने के बाद पुलिस ने आरोपित को कोर्ट में पेश किया जहां से जेल भेज दिया गया। किशोरी नारी निकेतन चली गई। दो माह पहले दिलशाद जमानत पर छूटा था। विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट कोर्ट नम्बर चार में चल रहे मुकदमे में शुक्रवार को गवाही होनी थी।

एडीजी अखिल कुमार ने कहा कि कचहरी परिसर में सेवानिवृत्त फौजी असलहा लेकर कैसे पहुंचा इसकी जांच कराई जा रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। आरोपित को असलहे के साथ पकड़ लिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.