ख़बरें राज्यों से

यूपी में 16 जनवरी तक 10वीं के सभी स्कूल बंद, 11-12वीं के छात्र वैक्सीनेशन के लिए आएंगे

लखनऊ। कोरोना संक्रमण से बच्चों को बचाने के लिए यूपी में 10वीं तक के स्कूलों में 16 जनवरी तक अवकाश घोषित करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं 12वीं के जिन छात्रों की उम्र 15-18 वर्ष है उन्हें वैक्सीनेशन के लिए स्कूल आना होगा, 15 से 18 वर्ष तक के छात्रों के लिए विद्यालयों में कैंप लगवाकर टीकाकरण किया जाएगा। हालाँकि ऑनलाइन क्लास जारी रहेंगी। इससे पहले एक हजार संक्रमण वाले जिलों में कक्षा 10 वीं तक के सभी सरकारी और प्राइवेट स्‍कूलों में मकर संक्रांति यानि 14 जनवरी तक छुट्टी का ऐलान किया गया था।

बुधवार को प्रदेश में 24 घंटों के भीतर कुल 2 हजार 38 नए मामले दर्ज किए गए हैं। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए योगी सरकार ने सख्ती को बढ़ाना शुरू कर दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश देते हुए कहा कि कक्षा 10वीं तक के सभी विद्यालयों में 16 जनवरी तक अवकाश घोषित किया जाए और 11-12वीं कक्षा के 15-18 वर्ष के बच्चों को केवल टीकाकरण के लिए ही विद्यालय बुलाए जाएं। आदेश में कहा गया है कि विद्यार्थियों की कक्षाएं ऑनलाइन माध्यम से संचालित की जाएंगी। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के अनुसार सभी आंगनबाड़ी केंद्र भी बंद रहेंगे। बच्चों को पुष्टाहार उनके आवास पर उपलब्ध कराया जाएगा।

दरअसल 4 जनवरी को सरकार की ओर से सूचना आई थी कि यूपी में कक्षा 10 तक के स्कूलों में 6 जनवरी से 14 जनवरी तक छुट्टी घोषित करने का आदेश दिया गया है लेकिन, इसके बाद मुख्य सचिव के नाम से जारी एक चिट्ठी वायरल हो रही है जिसमें स्कूलों में छुट्टी किए जाने को लेकर एक बड़ी शर्त का जिक्र है।

वायरल हुई इस चिट्ठी में शर्त है कि कक्षा 10 तक के स्कूल तब बंद किए जाएंगे जब जब जिले में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 1000 होगी। ऐसे में लोगों और स्कूल प्रबंधन को यह समझ नहीं आ रहा है कि छुट्टी है या नहीं।

हालाँकि सीनियर IAS अफसर अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने कहा कि स्कूल बंद हैं। हजार केस हों या न हों, तब भी स्कूल बंद होंगे, 14 तक सभी स्कूल बंद रहेंगे। आजकल वैसे भी ठंड है, तो छोटे बच्चों के स्कूल बंद रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *