राष्ट्रीय

पीएम मोदी का ट्विटर अकाउंट हैक: ‘भारत ने बिटकॉइन को मंजूरी दी’

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर अकाउंट कुछ देर के लिए हैक कर लिया गया। उनके अकाउंट से बिटकॉइन को लीगल करने का ट्वीट किया गया। हालांकि, बाद में उस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया। पीएमओ की ओर से यह जानकारी दी गई है कि अकाउंट रीस्टोर करने के बाद यह मामला माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के समक्ष उठाया गया है।

रविवार सुबह 2 बजकर 11 मिनट पर प्रधानमंत्री मोदी के निजी ट्विटर हैंडल @narendramodi से एक ट्वीट किया गया। जिसमें लिखा गया कि भारत ने अब आधिकारिक रूप से बिटकॉइन को मंजूरी दे दी है। सरकार ने आधिकारिक तौर पर 500 बिटकॉइन ख़रीदे हैं और इसे देश के सभी नागरिकों में बांटा जाएगा। जल्दी करें। ट्वीट में एक स्पैम लिंक भी लगाया गया था।

हालांकि इस ट्वीट को कुछ ही देर में पीएम मोदी के ट्विटर अकाउंट से हटा दिया गया। लेकिन तब तक ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल हो चुका था। इसके बाद 2 बजकर 14 मिनट पर दोबारा एक और ट्वीट किया गया जो पहले वाले की ही तरह था। इस ट्वीट को भी प्रधानमंत्री मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट से डिलीट कर दिया गया।

प्रधानमंत्री मोदी के निजी ट्विटर अकाउंट से स्पैम ट्वीट किए जाने पर पीएमओ ने स्पष्टीकरण दिया। पीएमओ ने ट्वीट किया, ‘पीएम नरेंद्र मोदी का ट्विटर हैंडल कुछ देर के लिए हैक हुआ। यह मामला ट्विटर के सामने उठाया गया है और अकाउंट को भी तुरंत ही रीस्टोर कर के सुरक्षित कर दिया गया है। हैक किए जाने के कुछ मिनटों में शेयर हुए ट्वीट पर ध्यान न दें।’

पीएम मोदी का अकाउंट हैक होने की खबर मिलते ही ट्विटर में भी खलबली मच गई। माइक्रो ब्लॉगिंग साइट के प्रवक्ता ने बताया कि हम 24X7 पीएम ऑफिस से बातचीत कर रहे हैं। हैकिंग की जानकारी मिलते ही हमारी टीम ने कॉम्प्रोमाइज्ड अकाउंट को सिक्योर करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए। हमारी जांच में पता चला है कि इस समय किसी और अकाउंट के हैक होने का कोई संकेत नहीं है।

यूं ही नहीं पीएम मोदी बने टारगेट
पीएम मोदी को साइबर ठगों ने सिर्फ इसलिए टारगेट नहीं किया है क्योंकि वह भारत के पीएम हैं। दरअसल, उन्होंने हाल ही में सिडनी संवाद के दौरान डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए क्रिप्टोकरंसी पर अपना सख्त रवैया दिखाया था। पीएम मोदी ने कहा था कि सभी देशों को यह सुनिश्चित करना होगा कि क्रिप्टो गलत हाथों में न पड़े, इससे युवाओं पर बुरा असर पड़ेगा। गुरुवार को उन्होंने यह बयान दिया था और उसके कुछ ही दिनों बाद साइबर ठगों ने उनके अकाउंट में सेंध लगा दी।

पर्सनल वेबसाइट का ट्विटर भी हो चुका है हैक
पिछले साल सितंबर में पीएम मोदी की निजी वेबसाइट का ट्विटर हैंडल @narendramodi_in भी हैक हो गया था। तब भी हैकर ने कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए डोनेशन में बिटक्वॉइन की मांग की थी। फौरन ही वे ट्वीट्स डिलीट कर दिए गए।

बिटकॉइन को नहीं दी गई है मंजूरी
भारत में अभी तक बिटकॉइन या अन्‍य किसी क्रिप्टोकरेंसी को मान्यता नहीं दी गई है। इस विषय में आखिरी फैसला पीएम मोदी को ही करना है। क्रिप्टो पर देश के अलग-अलग नियामक और एक्सपर्ट की अलग-अलग राय है। भारत के बैंकिंग नियामक रिजर्व बैंक ने क्रिप्टो करेंसी को लेकर गंभीर चिंताएं जताई है। क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल 2021 संसद के शीतकालीन सत्र में पेश होना है। भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने एक प्रस्तावित बिल के लिए ड्राफ्ट तैयार किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *