राष्ट्रीय

कुछ देर में दिल्ली पहुंचेगा सीडीएस और अन्य जवानों का पार्थिव शरीर, पालम एयरपोर्ट पर श्रद्दांजलि देंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली। भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत का बुधवार को तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलीकॉप्टर हादसे में निधन हो गया। इस हादसे में उनकी पत्नी समेत 12 और लोगों ने अपनी जान गंवा दी। पीएम मोदी आज रात करीब 9 बजे दिवंगत सीडीएस बिपिन रावत और अन्य सशस्त्र बलों के जवानों को श्रद्धांजलि देंगे। रक्षा मंत्री, रक्षा राज्य मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और तीन सेना प्रमुख भी मौजूद रहेंगे।

भारतीय वायु सेना के C-130J सुपर हरक्यूलिस परिवहन विमान में सभी 13 लोगों के पार्थिव शरीर को सुलूर से दिल्ली लाया जा रहा है। वायुसेना प्रमुख वहां से पहले ही दिल्ली के लिए रवाना हो चुके हैं। सीडीएस बिपिन रावत और सशस्त्र बलों के अन्य जवानों का पार्थिव शरीर आज रात करीब आठ बजे दिल्ली पहुंचेगा। यहां पहुंचने के बाद उन्हें पालम एयरपोर्ट पर श्रद्धांजलि दी जाएगी। सैन्य विमान दुर्घटना का शिकार हुए जवानों के परिवार के कुछ सदस्य भी मौजूद रहेंगे।

सेना के मुताबिक, अब तक केवल तीन पार्थिव शव की पहचान संभव हो पाई है (जनरल बिपिन रावत, मधुलिका रावत और ब्रिगेडियर एलएस लिड्डर)। इनके शव को संबंधित परिवारों को सौंपा जाएगा। बाकी शव की पहचान की प्रक्रिया जारी है। सकारात्मक पहचान औपचारिकताएं पूरी होने तक पार्थिव शव सेना बेस अस्पताल के मुर्दाघर में रखा जाएगा। सभी मृतकों के उचित सैन्य अंत्येष्टि की योजना बनाई जा रही है और करीबी परिवार के सदस्यों के साथ परामर्श किया जा रहा है।

कैप्टन वरुण को बेंगलूरू के हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया
हेलीकॉप्टर दुर्घटना में एकमात्र जीवित बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को इलाज के लिए बेंगलूरू के कमांड हॉस्पिटल में शिफ्ट कर दिया गया है। कैप्टन वरुण के पिता और कोयंबटूर के आधिकारिक सूत्रों ने वरुण की हालत पर कहा कि अब तक उनके तीन ऑपरेशन हो चुके हैं। उनकी हालत गंभीर है लेकिन स्थिर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *