विविध

कंगना के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर ने दिया विवादित बयान, कहा- 2014 से देश अमेरिका का गुलाम

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के बाद अब कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने देश की आजादी को लेकर विवादित बयान दिया है। सीनियर कांग्रेस लीडर अय्यर ने इंडो-रशिया फ्रेंडशिप सोसायटी के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि साल 2014 के बाद से हम अमेरिका के गुलाम बन गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जब से भाजपा की केंद्र में सरकार आई है, तब से भारत और रूस के संबंधों में खटास आ गई है।

अय्यर ने सोमवार को इंडिया रशिया फ्रेंडशिप सोसायटी द्वारा फिरोज शाह रोड स्थित रशियन सेंटर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि पिछले सात साल से हम देख रहे हैं कि गुटनिरपेक्षता की तो बात ही नहीं होती, शांति को लेकर कोई चर्चा नहीं होती है। अमेरिकियों के गुलाम बनकर बैठे हैं और उनके कहने पर हम चीन से बच रहे हैं। हम कहें कि चीन के सबसे करीब दोस्त तो आप ही हो। दरअसल, मणिशंकर अय्यर भारत-अमेरिका के बीच मजबूत हो रहे संबंधों को लेकर सवाल खड़े किए।

अय्यर ने कहा कि भारत और रूस के रिश्ते बरसों पुराने हैं। रूस ने भारत को हमेशा सहयोग किया है लेकिन जब से मोदी सत्ता में आए हैं, ये रिश्ता कमजोर हुआ है। मणिशंकर अय्यर ने कहा कि 2014 तक रूस के साथ हमारे संबंध और व्यापार अच्छे थे लेकिन पिछले सात सालों में काफी कम हो चुके हैं।

इससे पहले मणिशंकर अय्यर ने मध्यकालीन इतिहास को लेकर अपनी ज्ञान की गंगा बहाई थी। उन्होंने कहा, ‘’अकबर ने 50 साल तक देश पर राज किया। इसी को मद्देनजर रखते हुए जहां मैं रहता था, उस सड़क का नाम अकबर रोड था। हमें कोई एतराज़ नहीं था, हमने कभी नहीं कहा कि महाराणा प्रताप रोड बना दीजिए क्योंकि हम अकबर को अपना समझते हैं उसे गैर नहीं समझते।’’

कंगना ने आजादी को बताया था भीख
कंगना रनौत ने 1947 में मिली आजादी को भीख बताते हुए कहा था कि देश को आजादी 2014 में मिली है।  कंगना का ये बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसे लेकर कंगना की खूब आलोचना भी हुई। लोगों ने इसे स्वतंत्रता सेनानियों का सरासर अपमान बताया और माफी मांगने की अपील की। हालांकि, कांगन रनौत ने माफी नहीं मांगी।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *