विविध

दिल्ली में एमसीडी चुनाव से पहले भाजपा का दांव, झुग्गी बस्तियों में खोले जाएंगे नमो सेवा केंद्र

दिल्ली। अगले साल होने वाले दिल्ली नगर निगम चुनावों के मद्देनजर दिल्ली भाजपा राजधानी में करीब 32 विधानसभा क्षेत्रों की झुग्गी बस्तियों में नमो सेवा केंद्र खोलने की योजना बना रही। इसी के साथ वह अपने ‘झुग्गी सम्मान यात्रा’ कार्यक्रम को भी मजबूत करना चाहती है।

तीन नगर निगमों में 2007 से सत्तारूढ़ भाजपा ने विजय दशमी (15 अक्टूबर) पर ‘‘झुग्गी सम्मान यात्रा’’ शुरू की थी। इस यात्रा का मकसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में झुग्गी बस्तियों के निवासियों को जागरूक करना और शहर में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार की ‘‘नाकामियों को उजागर’’ करना है।

भाजपा की दिल्ली इकाई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया, ‘‘नमो सेवा केंद्रों का मकसद झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों को ‘उज्ज्वला योजना’, ‘जहां झुग्गी वहां मकान’ जैसी मोदी सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए सीधी मदद पहुंचाना है।’’ भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता और अन्य नेताओं ने अब तक ‘‘झुग्गी सम्मान यात्रा’’ के तहत शहर भर के 17 विधानसभा क्षेत्रों में झुग्गी बस्तियों का दौरा किया है। पार्टी ने ऐसे 32 निर्वाचन क्षेत्रों की पहचान की है जहां झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों की घनी आबादी है।

पार्टी पदाधिकारी ने कहा, ‘‘इन दौरों पर मैंने देखा कि कई लोग मोदी सरकार की योजनाओं का लाभ उठा पाने में असमर्थ हैं और वे केजरीवाल सरकार में पानी की आपूर्ति, बिजली, सीवर और अन्य ऐसी सुविधाओं की कमी का सामना कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘स्थानीय लोगों को अधिकतम लाभ पहुंचाने के लिए इन केंद्रों के संचालन के वास्ते स्थानीय कुशल युवाओं को रोजगार देने की योजना है।’’

पार्टी नेताओं ने दावा किया कि ‘झुग्गी सम्मान यात्रा’ को शहर में झुग्गी बस्तियों में ‘‘शानदार प्रतिक्रिया’’ मिल रही है। दिल्ली भाजपा के उपाध्यक्ष आदित्य झा ने कहा, ‘‘हमने लोगों को उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन दिलाने और जन धन योजना जैसी अन्य योजनाओं में पंजीकरण कराने में मदद करना शुरू कर दिया है। महिलाओं को साड़ियों और राशन किट वितरित करके जरूरतमंद लोगों को तत्काल मदद मुहैया करायी जा रही है।’’

पार्टी की दिल्ली इकाई के कई नेताओं का मानना है कि पंजाब, उत्तराखंड और खासतौर से उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के नतीजों का शहर में नगर निगम के चुनावों के नतीजों पर असर पड़ेगा। एक अन्य नेता ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के अच्छे प्रदर्शन से यहां हमारी संभावनाओं को बल मिलेगा जैसा कि 2017 के चुनावों में हुआ था जिसमें हमने तीन नगर निगमों में ‘आप’ (आम आदमी पार्टी) को हराया था।’’ पार्टी नेताओं ने बताया कि नगर निगम चुनावों के लिए रणनीति पर भाजपा की दिल्ली इकाई की कार्यकारी समिति की बैठक में सोमवार को चर्चा की जाएगी।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *