मेरा गाज़ियाबाद

2000 से ज्यादा बेटियों की शादी का साक्षी बना गाजियाबाद

गाजियाबाद। सोमवार को गाजियाबाद 2000 से ज्यादा बेटियों की शादी का साक्षी। श्रम विभाग की कन्या विवाह सहायता योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम नव विवाहित जोड़ों ने जीवन की नई पारी में प्रवेश किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी वर्चुअली रूप से शामिल हुए। उन्होंने वर-वधुओं को आशीर्वाद और शुभकामनाएं दीं। योगी ने इस मौके पर कहा कि इनसे सामाजिक कुरीतियां खत्म हो रही हैं। इन्हें बढ़ावा मिलना चाहिए।

कमला नेहरू पार्क में जनपद गाजियाबाद, बुलंदशहर एवं हापुड़ के 2306 जोड़ों का सामूहिक कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में गाजियाबाद के 1239 जोड़ें, जनपद हापुड़ के 641 जोड़ें एवं जनपद बुलंदशहर के 426 जोड़ों का सामूहिक विवाह हुआ, जिसमें 1488 हिंदू समुदाय, 812 मुस्लिम समुदाय एवं 6 बौद्ध समुदाय के नव-विवाहित वर-वधू की शादी संपन्न कराई गई।

कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होते हुए सीएम योगी ने नव-विवाहित वर-वधुओ को आशीर्वाद देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। उन्होंने कहा कि गांव की बेटी सबकी बेटी की भावना जातिभाव से ऊपर होती है। कन्यादान सबसे पवित्र दान है। सामाजिक सहभागिता से इस तरह के कार्यक्रमों का लाभ जरूरतमंदों को मिलता है। ना दहेज लिया जा सकता और न ही बाल विवाह हो सकता, इस तरह से कुरीतियों को खत्म करने का काम भी किया जा रहा है। केंद्र और प्रदेश सरकार ने हर वर्ग के लिए कल्याणकारी योजनाओं को शुरू किया।

समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य भी शामिल हुए हैं। मंच पर केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह, स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग, महापौर आशा शर्मा, विधायक सुनील शर्मा, नंद किशोर गुर्जर सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *