ख़बरें राज्यों से

कंगना के ‘भीख में आजादी’ वाले बयान पर बोले मलिक- सरकार वापस ले पद्मश्री अवॉर्ड

मुम्बई। एनसीपी नेता और महाराष्ट्र कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने अभिनेत्री कंगना रणौत के आजादी वाले बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि हम अभिनेत्री कंगना रणौत के बयान की कड़ी निंदा करते हैं। उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया है। केंद्र को उनसे पद्मश्री वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

नवाब मलिक ने कहा, ‘हम कंगना रनौत के इस बयान की कड़ी निंदा करते हैं कि भारत को 2014 में आजादी मिली। अभिनेत्री ने स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया। केंद्र को कंगना से पद्मश्री वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।’

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने आगे कहा कि ऐसा लगता है कि इस तरह का बयान देने से पहले कि भारत को 2014 में आजादी मिली थी, कंगना रनौत ने मलाणा क्रीम (हशीश की एक विशेष किस्म, जो विशेष रूप से हिमाचल प्रदेश में उगती है) की हेवी डोज ली थी। बता दें कि इससे पहले वरुण गांधी से लेकर कई नेता कंगना रनौत की आलोचना कर चुके हैं।

कंगना ने कहा-1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी, आजादी 2014 में मिली
दरअसल, अभिनेत्री कंगना रनौत ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि भारत को ‘1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी और जो आजादी मिली है वह 2014 में मिली, जब नरेंद्र मोदी सरकार सत्ता में आई।

पहले भी विवादास्पद बयान देती रहीं कंगना अपने इस बयान से एक बार फिर विवाद में पड़ गयी हैं। आम आदमी पार्टी ने मुंबई पुलिस में आवेदन दाखिल कर कंगना के खिलाफ ‘राजद्रोह पूर्ण और भड़काऊ’ बयान के लिए मामला दर्ज करने की मांग की है। वहीं, भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी समेत कई नेताओं, सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं एवं अन्य लोगों ने बुधवार शाम को एक कार्यक्रम में दिये गये अभिनेत्री के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

कंगना के इस बयान के बाद बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने लिखा, कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान, और अब शहीद मंगल पाण्डेय से लेकर रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आज़ाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार। इस सोच को मैं पागलपन कहूँ या फिर देशद्रोह?

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *